Connect with us

Crime News

Girl Raped By Police Officer In Lure Of Job; Commits Suicide

Published

on

Anushka Pathak, Investigative Journalist, Mumbai Uncensored, 30th December 2021:

A 20-year-old girl was found dead in the Vasant Nagar area of Umarkhed on Friday. Ganga was found strangled in the room of a district riot police officer. The investigation has now revealed that she committed suicide because she was sexually assaulted by a police officer. A police officer has been arrested by the Umarkhed police on charges of rape and abetment to suicide. 

Umarkhed police arrested a police officer Vijay Hatkar (age 42) on the night of December 25 in this case. He is now in police custody till January 2 after being produced in court. 

Vijay Hatkar lured Ganga for a job in the police force and admitted her to a private police training academy. After that, he called her to his place in the lure of marriage and started harassing her, and forcefully kept her in his house. When Ganga did not return home, her family members filed a complaint with the police. The police then found her body hanging at Vijay’s rented room in Vasant Nagar. Ganga’s father Sanjay Korde, has lodged a complaint against the accused with the police.

The result has been concluded after the complaint and the medical examination of the body, resulting in registering a case against Vijay Hatkar by the Umarkhed police under various sections like torture and abetment to suicide. He has been produced in court and has been remanded to police custody for seven days. The accused was a police officer in the District Riot Control Squad and was posted in Umarkhed. Thanedar Amol Malve revealed that Vijay was on leave from December 6.

Crime News

उदयपुर के दर्जी कन्हैयालाल साहू की गला रेतकर बेरहमी से की गई हत्या

Published

on

Nazneen Yakub – Mumbai Uncensored, 29th June 2022

राजस्थान के उदयपुर में मंगलवार दोपहर को दिल दहलाने वाली घटना घटित हुई है। इस घटना को पूर्व बीजेपी नेता नूपुर शर्मा के पैंगबर मोहम्मद टिप्पणी मामले का बदला बताया गया है। 

बीते मंगलवार 29 जून को दोपहर 2 से 3 बजे के करीब दो व्यक्ति मोहम्मद रियाज और गौस मोहम्मद उदयपुर के दर्जी कन्हैयालाल साहू की दुकान पहुंचते है। वहां कपड़े सिलवाने के बहाने से  उनकी दुकान अन्दर घुसते है, जिसके बाद वह कन्हैयालाल को जबरजस्ती दुकान से बाहर लाकर तलवार से उनका गला रेतकर  हत्या को अंजाम देते हैं। 

दर्जी कजन्हैयालाल साहू की दिनदहाड़े हत्या करने के बाद दोनों आरोपियों ने अपना जुर्म स्वीकार करते हुए एक वीडियो शेयर किया था। इस वीडियो में उन्होंने कहा ”पैग़ंबर के अपमान करने वालों को यही सज़ा मिलेगी।”  इसके साथ ही उन्होंने वीडियो में पीएम नरेंद्र मोदी को भी जान से मारने की धमकी दी थी।    

दरअसल कन्हैयालाल के बेटे ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर आपत्तिजनक पोस्ट शेयर की थी। इसी फेसबुक पोस्ट के कारण उन पर हमला किया गया है। 

दोनों आरोपियों को राजस्थान पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।अतिरिक्त महानिदेशक जंगा श्रीनिवास, दिनेश एमएन, डीआईजी आरपी गोयल और राजीव पचार समेत करीब 30 आर पी एस अधिकारी, पांच आरएसी की कंपनी उदयपुर में तैनात की गई हैं। फिलहाल मामले की जांच जारी है।  

बता दें कि कन्हैयालाल की हत्या के बाद राजस्थान में विरोध प्रदर्शन चल रहा हैं। इस घटना को लेकर हिन्दू संगठन में रोष देखने को मिला। इसके साथ ही मामले को लेकर सोशल मीडिया पर काफी सारी प्रतिक्रियाएं भी देखी जा रही हैं।

Continue Reading

Crime News

चीनी कंपनी से जुड़े 400 CA और CS पर होगी कार्यवाई

Published

on

Nazneen Yakub – Mumbai Uncensored, 20th June 2022

केंद्र सरकार ने 400 चार्टर्ड अकाउंटेंट (CA)और कंपनी संचिवों (CS)पर अनुसशासनात्मक जांच की जाएगी। सीए और सीएस के ऊपर आरोप है कि वह चीनी कंपनियों के साथ शामिल है, उन्होंने कथित तौर पर मानदंडों की धज्जियां उड़ाई हैं।
दरअसल साल 2020 में गलवान की घटना के बाद चीनी व्यापारिक संस्थाओं के खिलाफ सरकार ने संदिग्ध कदम उठाए थे। जिससे संबंधित जांचों के आदेश जारी किए गए है।

सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी अखबार से बताया है कि जिन चार्टर्ड अकाउंटेंट और कंपनी सचिवों के खिलाफ अनुशासना्त्मक कार्रवाई शुरू की गई है, उन्होंने बड़ी संख्या में चीन के स्वामित्व वाली या चीनियों की ओर से बड़े शहरों में चलाई जाने वाली शेल कंपनियों को नियमों और कानून के पर्याप्त अनुपालन के बिना इनकॉर्पोरेट करने में मदद की थी। कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय ने पिछले दो महीनों से वित्तीय खुफिया यूनिट से प्राप्त सूचनाओं के आधार पर कार्रवाई की सिफारिश की है।

चार्टर्ड अकाउंटेंट मामलों को देखने वाली वैधानिक संस्था इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) ने अखबार को दिए एक बयान में कहा है, ‘आईसीएआई का अनुशासनात्मक निदेशालय सीए प्रोफेशनलों के खिलाफ देश भर के विभिन्न रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज से शिकायतें प्राप्त कर रहा है, जो कि चीनी नागरिकों से जुड़ी कंपनियों के साथ उनके कथित रूप से ताल्लुकातों को लेकर है।’ हालांकि, आईसीएआई ने फिलहाल उनके कथित दोष को लेकर जांच पूरी होने से पहले किसी तरह की टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है।

पिछले दो वर्षों में सरकार के सख्त कदमों के चलते चाइनीज कंपनियों से आने वाला प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) एकदम गिर गया है, लेकिन पिछले साल दोनों के बीच द्विपक्षीय व्यापार रिकॉर्ड 125 बिलियन डॉलर तक पहुंच गया है। डिपार्टमेंट फॉर प्रमोशन ऑफ इंडस्ट्री एंड इंटर्नल ट्रेड के आंकड़ों के मुताबिक 2020 में अप्रैल से जून (साल 2000 से लेकर) के बीच चीन से एफडीआई 15,422 करोड़ रुपए था, लेकिन 2022 की पहली तिमाही में यह गिरकर 12,622 करोड़ रुपये तक आ चुका है।

Continue Reading

Crime News

वीज तोडणाऱ्या भामट्याकडून महिलेचे १२ लाखांचे नुकसान

Published

on

Kalyani Gilbile – Mumbai Uncensored, 17th June 2022

त्या फसवणूक करणार्‍याने ५७ वर्षीय अंधेरी येथील रहिवासी असलेल्या महिलेचा एका पेट्रोलियम कंपनीच्या मोबाईलचा रिमोट ऍक्सेस मिळवला आणि १३-१४ जून दरम्यान तिच्या बँक खात्यातून १२ लाख रुपये एकाहून अधिक खात्यांमध्ये ट्रान्सफर केले. 

मागील महिन्याचे बिल अपडेट न केल्यामुळे रात्री ८.३० वाजता वीज खंडित केली जाईल असा बनावट संदेश पीडितेला देऊन फसवणूक करण्यात आली. तिने त्या नंबरवर संपर्क साधला आणि क्विक सपोर्ट अॅप डाउनलोड केले. 

फसवणूक करणाऱ्याने पीडितेला क्विक सपोर्ट डाउनलोड केल्यानंतर वीज खंडित न होण्याची प्रक्रिया पूर्ण करण्यासाठी तिच्या बँकिंग कार्डचे तपशील स्कॅन करायला आणि टाइप करायला लावले. 

“गोपनीय बँकिंग तपशील मिळवून, फसवणूक करणार्‍याने ३.९ लाख रुपये असलेले एफडी खाते तोडले, जे तिच्या बचत खात्यात हस्तांतरित केले गेलेले, ज्यामध्ये सुमारे ८ लाख रुपये होते. तोच निधी फसव्या पद्धतीने हस्तांतरित करण्यात आला. अशा प्रकारची फसवणूक वाढत आहे आणि वीज कंपन्यांनी वारंवार चेतावणी देऊनही लोक बनावट संदेशांना बळी पडत आहेत की ते कधीही खंडित होण्याचे संदेश पाठवत नाहीत,” असे बीकेसी येथील सायबर पोलीस अधिकाऱ्याने सांगितले. 

१३ जून रोजी संध्याकाळी ६.२३ च्या सुमारास तक्रारदाराला वीजतोडणीचा हा संदेश MSEB कडून पाठवल्याचा दावा करणारा मजकूर संदेश मिळाला तेव्हा फसवणूक झाली. 

Continue Reading

Trending