Connect with us

Politics

एकनाथ शिंदे यांचे बंड, महाविकास आघाडीमध्ये पेचप्रसंग?

Published

on

Kalyani Gilbile – Mumbai Uncensored, 22th June 2022

राज्यसभा निवडणुकीच्या अपयशातून सावरतोय तेवढ्यात ‘’आपण महाविकास आघाडीतून बाहेर पडून भाजपसोबत युती करावी आणि राज्यात नवे सरकार स्थापन करावे’’ असा प्रस्ताव शिवसेनेचे नेते नगरविकासमंत्री एकनाथ शिंदे यांनी मुख्यमंत्री उध्दव ठाकरे यांच्यासमोर ठेवून काल २२जून रोजी 40 आमदारांसह सूरतेची वाट धरत बंड पुकारले.

समर्थक आमदारांसह शिंदे यांनी केलेल्या बंडामुळे शिवसेना पूर्णपणे चक्रव्यूहात अडकली असून महाविकास आघाडीमध्ये मोठा पेचप्रसंग उभा राहिला आहे. उध्दव ठाकरे यांच्या हातात पक्षाची धुरा असताना शिवसेनेतील हे पहिले बंड आहे. म्हणून गटनेतेपदावरून एकनाथ शिंदेची हकालपट्टी करताना दुसऱ्याबाजूने मात्र शिवसेनेतून त्यांची मनधरणी होत आहे. 

मला कोणत्याही मंत्रीपदाची आशा नाही. मात्र हिंदुत्वाचा पुरस्कार करणाऱ्या शिवसेनेने काँग्रेस आणि राष्ट्रवादी काँग्रेस यांची साथ सोडून भाजपसोबत सरकार स्थापन करावे, असे ठाकरे यांच्याशी संवादात सांगितल्याचे समजते. 

आमदारांच्या नाराजीची सुरुवात राष्ट्रवादीकडे अर्थ आणि गृह मंत्रालय गेल्यापासूनच झाली होती, शिवसेनेच्या अनेक आमदारांना निधी मिळत नव्हता. त्यामुळे शिवसैनिक खूप नाराज होते. निधी मिळत नसल्याची तक्रार अनेक आमदार मुख्यमंत्री उध्दव ठाकरेंकडे करायचे. त्यावर मी शरद पवारांशी बोलतो, असं उत्तर मुख्यमंत्री द्यायचे. मात्र त्यापुढे काहीच व्हायचं नाही. संपूर्ण सरकारच शरद पवार चालवणार असतील, तर मग आपण या सरकारमध्ये का आहोत, अशी भावना सेनेच्या आमदारांच्या मनात निर्माण झाली आणि हळूहळू ती अधिक प्रबळ होत गेली. त्याचीच परिणीती एकनाथ शिंदे यांच्या बंडात झाली.

Politics

पीएम नरेंद्र मोदी ने यूपी के बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का किया उद्घाटन

Published

on

Nazneen Yakub, Mumbai Uncensored, 16th July 2022:

उत्तर प्रदेश के 296 किलोमीटर लम्बे बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उद्घाटन किया। बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे के उद्घाटन के दौरान वहां मौजूद यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इसके साथ ही यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और ब्रजेश पाठक भी मौजूद रहें।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उद्घाटन करते समय यह कहा कि बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे से चित्रकूट से दिल्ली की दूरी तो 3-4 घंटे कम हुई ही है, लेकिन इसका लाभ इससे भी कहीं ज्यादा है। ये एक्सप्रेसवे यहां सिर्फ वाहनों को गति नहीं देगा, बल्कि ये पूरे बुंदेलखंड की औद्योगिक प्रगति को गति देगा। हम कोई भी फैसला लें, निर्णय लें, नीति बनाएं, इसके पीछे सबसे बड़ी सोच यही होनी चाहिए कि इससे देश का विकास और तेज होगा। हर वो बात जिससे देश को नुकसान होता है, देश का विकास प्रभावित होता है, उसे हमें दूर रखना है।

बता दें कि बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे में करीब 14,850 करोड़ रुपए की लागत लगी हैं। यह एक्सप्रेसवे इटावा, औरैया, जालौन, महोबा, बांदा, और हमीरपुर जिले को कवर करेगा, चित्रकूट जिले के भरतकूप क्षेत्र के पास गोंडा गांव में समाप्त होगा। यह एक्सप्रेसवे चित्रकूट को लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे से जुड़ेगा।

Continue Reading

Politics

List of world leaders with whom PM Modi held bilateral talks at the G7 Summit

Published

on

Megh Shah, Mumbai Uncensored, 12th July 2022:

  • Prime Minister Narendra Modi as always, had a busy schedule when he landed in Germany for the G7 Summit. As per the Ministry of External Affairs of the Government of India, the PM held a total of 6 bilateral meetings in addition to the interactions between him and all leaders present at the Summit. The list includes:-                                                                                                       
  • Meeting with – Mr. Alberto Fernandez (President of Argentina)                  

Issues discussed – Cooperation in areas such as trade, investment, climate action, renewable energy, nuclear medicine, pharmaceuticals, electric mobility, defence cooperation, agriculture, food security, traditional medicine and coordination in global bodies.                                                                                                                                

  • Meeting with – Mr. Cyril Ramaphosa (President of South Africa)                                                                                       

Issues discussed:-Deepening bilateral cooperation in areas like trade and investment, food security, defense, pharmaceuticals, digital financial inclusion, skill development, education,  insurance, health, and people-to-people contacts. Welcoming the WTO agreement reached in June 2022 that supports the production of COVID-19 vaccines in developing countries (India and South Africa were the first countries to submit a proposal on waiver of Covid-19 vaccine patents. The two countries also discussed regarding India and South Africa’s permanent UNSC membership in a reformed UN.                 

  • Meeting with – Olaf Scholtz (Chancellor of Germany)                      

Issues discussed:-  The two leaders reviews the progress made in bilateral cooperation after PM Modi’s visit to Germany in May this year. Discussions covered issues like climate action, provision of climate financing and technology transfer. Both leaders also agreed on the need to further deepen trade, investment and people to people ties.                                                                                                                            

  • Meeting with – Joke Widodo (President of Indonesia)

Issues discussed:– Increasing trade and investment between the two Asian countries. Discussions on Indonesia’s current and India’s forthcoming G20 Presidency.          

  • Meeting with – Ursula von der Leyen (President of European Commission)

Issues discussed:- The leaders expressed their delight at the resumption of negotiations between India and the EU on Trade, Investment, and GI Agreements. They examined India-EU collaboration in a variety of areas, including digital cooperation, climate action, and technology and innovation.                                                                            

  • Meeting with – Justin Trudeau (Prime Minister of Canada)

Issues discussed:- A productive meeting was held in which the leaders discussed India-Canada bilateral relations and agreed to further strengthen trade and economic linkages, cooperation in security and counter-terrorism, as well as people-to-people ties.

Continue Reading

Politics

क्या ईडी के सामने नहीं पेश होंगे संजय राउत?

Published

on

Nazneen Yakub – Mumbai Uncensored, 28th June 2022

प्रर्वतन निदेशालय (ED)ने  शिवसेना के सांसद संजय राउत को तलब किया है। ईडी ने मुंबई के गोरेगांव में एक चॉल के पुनर्विकास प्रोजेक्ट में अनियमितता से जुड़े मामले को लेकर तलब जारी किया है। जिसको लेकर आज 28 जून को पेशी होनी थी। लेकिन संजय राउत ईडी के सामने पेश नहीं हुए हैं। 

संजय राउत ने अपने वकील के जरिए  ईडी से किसी और दिन पेश होने का समय मांगा है। वहीं मुंबई के मुंख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कैबिनेट की अहम बैठक बुलाई है। 

बता दें कि ईडी द्वारा इस कार्यवाही को लेकर संजय राउत ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर ट्वीट शेयर किया है कि अभी पता चला है कि ईडी ने मुझे तलब किया है, बहुत अच्छे महाराष्ट्र में बड़ा राजनीतिक घटनाक्रम हो रहा है। हम, बालासाहेब के शिवसैनिक, बड़ी लड़ाई लड़ रहे हैं। यह मुझे रोकने की साजि़श है। भले ही आप मेरा सिर काट दें, मैं गुवाहाटी का मार्ग नहीं लूंगा, मुझे गिरफ्तार कीजिए। जय हिंद। 

आपको बता दें कि ईडी ने अप्रैल में संजय राउत की अलीबाग की जमीन और दादर का फ्लैट कुर्क करने का नोटिस दिया था। अब ईडी गोरेगांव में पतरा चॉल पुनर्वसन प्रोजेक्ट में बिल्डर ने अनियमिमता कर 1,039 करोड़ कमाए और उसी पैसे में से 55 लाख रुपए गुरू आशीष कंपनी के डारेक्टर प्रवीण राउत ने संजय राउत की पत्नी को दिए थे जिससे संपत्ति खरीदी गई थी। इसी मामले को लेकर ईडी संजय राउत से पूछताछ करेंगी।

Continue Reading

Trending